Sun. Feb 28th, 2021
             

गुजरात के सूरत में घोडदोड रोड के करीमाबाद में रहते खोजा समाज के व्यापारी अनवर दूधवाला के पुत्र कौमिल दूधवाला (32) को पुलिस ने अपहरणकर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराया है अपहरणकर्ताओं ने कौमिल का अपहरण कर उसके पिता से 3 करोड़ की फिरौती मांग की थी। अपहरण करने वाले चार में से दो आरोपितों को पुलिस ने भरुच तोलनाका से गिरफ्तार कर लिया है। चारों के पास से दो रिवोल्वर भी बरामद की गई है। फिलहाल दो आरोपी फरार है।

 

जानकारी के मुताबिक गुरुवार को कौमिल बाइक पर जीम जाने के लिए निकला था। घर से निकलते ही 350 की दूरी पर कृष्ण कुंज सोसायटी के नाका के पास अपहरणकार्ताओं ने बाइक को टक्कर मारकर उसका अपहरण कर लिया था। घटना की सूचना पाते ही पुलिस का काफिला आ पहुंचा था। पुलिस ने निकट सीसीटीवी खंखाले थे। जिसमें एक सफेद कलर की स्कोडा कार दिखाई दी थी। हालाकि पुलिस को कार नंबर नहीं दिखाई दिया।

एक घंटे बाद फिरौती के फोन आया
अपहरणकर्ताओं ने कौमिल का अपहरण करने के बाद उसके पिता के मोबाइल पर फोन कर तीन करोड़ रुपये की फिरौती की मांग की। सुबह 8.30 बजे कोल किया गया। इस दौरान फिरौती नहीं देने पर पुत्र को जान से मारने की धमकी दी गई थी।

हालाकि पकड़े जाने के डर से अपहरणकर्ता कौमिल को कामरेज के पास छोड़ कर फरार हो गये थे। अपहरणकर्ताओं के चुंगल से छुटने के बाद कौमिल वराछा में पहुंचा। जहां से उसने परिजनों को सूचना दी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *